छत्तीसगढ़ का प्रसिद्ध धार्मिक स्थल गौरैया धाम चौरेल 🚩🚩( गौरैया धाम ) GAOURAIYA DHAM CHAURAIL

जिले का ऐतिहासिक स्थल धर्म क्षेत्र गौरैया धाम चौरेल को बनाया जाएगा पर्यटन स्थल।

तांदुला नदी के तट पर स्थित गौरैया धाम में मुख्यमंत्री ने कहा यहां नदी

किनारे घाट व पचरीकरण का निर्माण करेंगे। कबीर आश्रम क्षेत्र की ओर

सर्व सुविधायुक्त धर्मशाला का निर्माण, महाविद्यालय के साथ अन्य कार्य

होगा। यह एक साथ नहीं बल्कि एक-एक कर किया जाएगा। ज्ञात रहे कि

बालोद जिले का प्रसिद्ध ऐतिहासिक व धार्मिक स्थल गौरैया धाम चौरेल में

माघी पुन्नी मेला में लोगों की बड़ी संख्या में मंदिर दर्शन के लिए भीड़ लगी।

वहीं खास मौके पर पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बड़ी सौगात देते हुए

नदी किनारे स्थित गौरैया धाम को पर्यटन स्थल बनाने की घोषणा

छत्तीसगढ़ का प्रसिद्ध धार्मिक स्थल गौरैया धाम चौरेल

न्यास सिद्ध शक्तिपीठ पवित्र गौरैया धाम – बालोद जिले के गुण्डरदेही

ब्लॉक मुख्यालय से 15 कि. मी की दुरी पर ग्राम चौरेल में तांदुला नदी के

सुरम्य तट पर यह पवित्र गौरेया धाम स्थित है।
इस पवित्र धाम में प्रतिवर्ष माघी पूर्णिमा के अवसर पर भव्य मेला लगता है

तथा नदी में विभिन्न अखाड़ों के साधु संत एवं आमजन शाही स्नान करते हैं।

मेला के दौरान यहाँ बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं और पर्यटकों का आना जाना लगा रहता है।


इस पवित्र धाम में प्राचीन शिवालय होने के कारण सावन मास में विशेष रौनक रहती है

अधिक जानकारी के लिय विडिओ का अवलोकन करे धन्यवाद |

3 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *