महामाया माता मंदिर अंबिकापुर || Mahamaya Mata Mandir Ambikapur

छत्तीसगढ़ प्राकृतिक द्वश्यो से एक संपन्न राज्य है जिसका अपनी प्राकृतिक छटा अपने आप में अनोखा है | कहीं पर नदी , कहीं पर पर्वत , तो कहीं पर राष्ट्रीय उद्यान उपस्थित हैं जो छत्तीसगढ़ में होने वाले महत्वपूर्ण एग्जाम cgpsc , cgvyapam आदि ।

महामाया माता मंदिर अंबिकापुर का प्रसिद्ध मंदिरो में से एक है और महामाया माता देवी को अम्बिका के नाम से भी जाना जाता है | माता को कुलदेवी भी कहा जाता है और बताया जाता है कि माता का धड़ अंबिकापुर में तथा सिर रतनपुर के महामाया मंदिर में विराजित है|

अंबिकापुर में विराजित महामाया देवी का मंदिर करीब 400 वर्ष से अधिक पुराना है और माता का मूर्ति जमीन से निकला हुआ है देवी का मंदिर राजा रधूनाथ शारणसिंह व्दारा बनाया गया है माता के दर्शन के लिए प्रतिदिन हजारो की संख्या में भक्त आते है और चैत्र नवरात्री एवं रामनवमी नवरात्री में लाखो की संख्या में भक्त माता के दर्शन के लिए आते है छत्तीसगढ़ के सभी जगहों और देश -विदेश से भक्त आते है

भक्त अपनी मनोकामन को लेकर मत के दरबार में आते है और माता की पूजा अर्चना करके ओनी मनोकामनाओं को मागते है और भक्तो की मनोकामना पूरी हो जाने पर नारियल ,आदि चडते है यहाँ पर चैत्र नवरात्री और रामनवमी नवरात्रि में ज्योतिकलश जलाये जाते है यहाँ पर विदेशों के भी ज्योति कलश जलाये जाते है यह पर 5 हजार से अधिक ज्योति कलश जलता है |

Letest Job Information के लिए follow करे

जो भी इच्छुक एवं पात्र उम्मीदवार अभ्यार्थी जो रिक्त पदों के लिए आवेदन करना चाहते हैं ( Click Hare )

Please Subcribed in Proffesional Youtube channel

Leave a Comment

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: