BIG BREAKING : रायपुर विश्वविद्यालय की वार्षिक परीक्षाओं के लिए जारी हुई आदेश Exam 2022

BIG BREAKING : रायपुर विश्वविद्यालय की वार्षिक परीक्षाओं के लिए जारी हुई आदेश Exam 2022

पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय ने आने वाली वार्षिक परीक्षा समेत सभी तरह के एग्जाम अब ऑफलाइन लेने का फैसला कर लिया है। कुलपति डॉ केएल वर्मा ने बुधवार को साफ कर दिया कि कॉलेज खुल गए हैं, पढ़ाई चल रही है, इसलिए आने वाली वार्षिक परीक्षा < ही नहीं बल्कि इसके तुरंत बाद से सेमेस्टर एग्जाम भी ऑफलाइन मोड पर होंगे। कुलपति ने छात्रों से कहा कि वे इसी आधार पर तैयारी करें कि परीक्षा सेंटर में जाकर देनी है। रविवि इसकी तैयारी में जुट गया है। दरअसल पिछली बार रविवि की वार्षिक परीक्षा ऑनलाइन मोड पर हुई थी। जनवरी में शुरू हुए सेमेस्टर एग्जाम भी ऑनलाइन चल रहे हैं, इसलिए रविवि के अधिकांश छात्रों का मानना था कि वार्षिक परीक्षा भी ऑनलाइन ही हो सकती है।

जानकारों के मुताबिक सेमेस्टर परीक्षा की वजह से छात्रों में वार्षिक परीक्षा के ऑनलाइन लिए जाने का संशय था, इसीलिए कुलपति ने सामने आकर स्पष्ट कर दिया कि छात्रों को इस दफा पेपर सेंटर जाकर ही बनाने होंगे। जनवरी में ही प्रथम व तृतीय सेमेस्टर परीक्षा का <शिड्यूल जारी किया गया था। परीक्षा का आयोजन ऑफलाइन करने की तैयारी थी, लेकिन कोरोना संक्रमण को देखते हुए उच्च शिक्षा से सेमेस्टर की परीक्षाएं • ऑनलाइन मोड में करने के निर्देश जारी हुए। इसके अनुसार रविवि ने भी शिड्यूल बदला और परीक्षाएं ऑनलाइन मोड में लेने का निर्णय लिया। 5 फरवरी से सेमेस्टर की परीक्षाएं चल रही हैं। सेमेस्टर परीक्षा ऑनलाइन मोड में होने से वार्षिक परीक्षा का आयोजन भी

रविवि की वार्षिक परीक्षा के लिए इस बार 1.82 लाख छात्रों ने फार्म भर दिया है। पिछले तीन-चार साल से डेढ़ लाख से कम छात्र आवेदन करते रहे हैं। दो लाख के करीब की यह संख्या तब भी, जब रविवि से दुर्ग विश्वविद्यालय अलग नहीं हुआ था। तब कालेजों की संख्या भी ज्यादा थी< इसलिए छात्र भी अधिक थे। इस साल यह संख्या अचानक क्यों बढ़ी, इसके पीछे भी जानकार ऑनलाइन एग्जाम की संभावना को ही वजह मान रहे हैं।

कुलपति डॉ. वर्मा ने कहा : कालेज खुल गए इसलिए सभी परीक्षाएं भी ऑफलाइन

दरअसल पिछले साल रविवि की वार्षिक परीक्षा ऑनलाइन हुई। उसमें 1.40 लाख परीक्षार्थियों ने हिस्सा लिया। ज्यादातर पास हो गए और नंबर भी अच्छे आए। इस साल दिसंबर से कोरोना की तीसरी लहर की सूचनाएं आने लगीं। जनवरी में छत्तीसगढ़ में भी संक्रमण की लहर शुरू हो गई और कालेज बंद करने पड़े। ठीक इसी समय वार्षिक परीक्षा के फार्म भरे जाने लगे थे< जनवरी के पहले पखवाड़े में रविवि ने सेमेस्टर परीक्षाएं ऑनलाइन लेने की घोषणा कर दी। तब से छात्रों में वार्षिक परीक्षा फिर ऑनलाइन होने का उम्मीद बढ़ी थी। इसी वजह से जनवरी के अंतिम हफ्ते में ताबड़तोड़ आवेदन भरे गए और संख्या 1.82 लाख तक पहुंच गई। अब ऑफलाइन एग्जाम होने से ऐसे छात्रों को झटका लग सकता है जिन्होंने ऑनलाइन की उम्मीद में फार्म भर दिया था।

इतने परीक्षा कि इस बार स्कूलों में भी बनेंगे सेंटर

रविवि की वार्षिक परीक्षा के लिए स्कूलों में भी केंद्र बनाए जाएंगे। परीक्षा के लिए इस बार आवेदन ज्यादा मिले हैं। विवि के अफसरों का कहना है< कि विवि से हर साल सौ से अधिक केंद्र बनाए जाते हैं। पिछले कुछ वर्षों से कॉलेज हो सेंटर बनाए गए। लेकिन इस बार फार्म ज्यादा मिले हैं। इसलिए स्कूलों में भी केंद्र बनाए जा सकते हैं। केंद्र के संबंध में समीक्षा की जा रही है। जल्द ही सेंटर निर्धारित किए जाएंगे।

Join in WhatsApp Group:- Click Here 👈

Leave a Comment

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: