PRSU पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के कुलपति द्वारा परीक्षाओं के लिए बड़ी

PRSU पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के कुलपति द्वारा परीक्षाओं के लिए बड़ी

पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के कुलपति के लिए नई गाड़ी आई है। यह कार किराये पर मंगायी गई है। इसके लिए विवि प्रबंधन हर महीने करीब 50 से 60 हजार रुपए खर्च करेगा। पिछले दिनों जमीन अधिग्रहण के मामले में कुलपति, कुलसचिव समेत एक अन्य सरकारी गाड़ी कुर्की में जब्त की गई।

जानकारी के मुताबिक सरकारी गाड़ियां वापस नहीं आने तक यही कार कुलपति की नई सवारी होगी। जानकारों का कहना है कि कुर्की की गाड़ियों की वापसी की संभावना काफी कम रहती है। विवि में फिलहाल नई गाड़ी के लिए कोई योजना नहीं है। ऐसे में यह गाड़ी उनके पास ही रहेगी। लंबे समय में यह किराये की गाड़ी विवि के पास यदि रहती है तो फिर विवि के लिए महंगी साबित हो सकती है, क्योंकि इसका किराया कुछ ही सालों में इतना हो जाएगा कि उतनी राशि में दूसरी गाड़ी खरीदी जा सकती होगी। कुर्की का अंदेशा अब भी बरकरार

जमीन अधिग्रहण के मुआवजे को लेकर मामला कुर्की का मामला अभी टला है। जानकारी के मुताबिक 5.16 एकड़ जमीन के मुआवजे को लेकर विवाद है। वर्ष 2017 में जिला न्यायालय ने किसानों के पक्ष में निर्णय दिया। इसके तहत करीब 6.63 करोड़ रुपए 15 प्रतिशत ब्याज की दर से मुआवजा देने का निर्देश दिया।

पिछले कुछ वर्षों में 46 राशि बढ़कर करीब 15 करोड़ रुपए हो गई है। इसी जमीन विवाद में पिछले दिनों कुछ मामलों को लेकर रविवि में कुर्की की कार्रवाई की गई। अभी कुछ मामलों को लेकर फिर कुर्की की कार्रवाई हो सकती है।

एक बार फिर न्यायालय में आवेदन किया जाएगा

पिछले दिनों जमीन अधिग्रहण के मुआवजे राशि को लेकर रविवि के चल संपत्तियों की कुर्की की गई इसके तहत विवि के कुलपति, कुलसचिव की सरकारी गाड़ियां जब्त की इन गाड़ियों को छुड़ाने के लिए विवि ने जिला न्यायालय में आवेदन किया लेकिन विवि को राहत नहीं मिली।

कुर्की के बाद एक-दो दिन कुलपति अपनी खुद की गाड़ी में रविवि आए। लेकिन अब उन्हें किराये की गाड़ी उपलब्ध करायी गई है। रविवि के कुलपति के पास पहले जो गाड़ी थी, उससे 48 यह किराये वाली गाड़ी है। रविवि के अफसरों का कहना है कि उसे छुड़ाने के लिए एक बार फिर न्यायालय में आवेदन किया जाएगा।

इससे पहले, रविवि की कुर्की के मामले में विरोध प्रदर्शन भी हुआ। पिछले दिनों भाजयुमों के कार्यकर्ताओं ने नाराजगी जताते हुए मुख्यमंत्री का पुतला भी फूंका। कार्यकर्ताओं ने कहा कि विवि का प्रतिष्ठा धूमिल हुई vec 6 1 overline 54 : मामले में आगे भी प्रदर्शन होगा।

Official Website 👉 Link 👈

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *