मंदिर

माँ खुड़िया रानी जशपुर

माँ खुड़िया रानी का मंदिर जशपुर जिले का प्रसिद्ध मंदिरो में से एक है खुड़िया रानी मंदिर यह जशपुर जिले के बगीचा ब्लॉक के छिछली पंचायत में स्थित है यह मंदिर हजारों साल पुरानी है यहां के पत्थर बताती है इस मंदिर का इतिहास, यहां के जो पत्थर हैं वह पानी के बहाव से कट-कट …

माँ खुड़िया रानी जशपुर Read More »

मामा-भांजा मंदिर दंतेवाडा ( बारसूर )

छत्तीसगढ़ प्राकृतिक द्वश्यो से एक संपन्न राज्य है जिसका अपनी प्राकृतिक छटा अपने आप में अनोखा है कहीं पर नदी कहीं पर पर्वत तो कहीं पर राष्ट्रीय उद्यान उपस्थित हैं जो छत्तीसगढ़ में होने वाले महत्वपूर्ण एग्जाम cgpsc , cgvyapam आदि मे पूछे जाते हैं। मामा- भांजा के नाम से प्रसिद्ध इस प्राचीन मंदिर मैं …

मामा-भांजा मंदिर दंतेवाडा ( बारसूर ) Read More »

400 वर्ष पुराना कंकालिन माता का मंदिर कांकेर छत्तीसगढ़

काली माता का मंदिर छत्तीसगढ़ के कांकेर जिला का प्रसिद्द मंदिर हैयह मंदिर 400 वर्ष पुराना मंदिरहै और इस मंदिर का निर्माण कांडरा राजा ने किया था और माता कंकालीन प्रथम शक्तिपीठो में से एक माता है इस मंदिर को कंकालीन माता के नाम से भी जाना जाता है और ये कांकेर जिला का प्रसिद्द …

400 वर्ष पुराना कंकालिन माता का मंदिर कांकेर छत्तीसगढ़ Read More »

महामाया माता मंदिर अंबिकापुर || Mahamaya Mata Mandir Ambikapur

छत्तीसगढ़ प्राकृतिक द्वश्यो से एक संपन्न राज्य है जिसका अपनी प्राकृतिक छटा अपने आप में अनोखा है | कहीं पर नदी , कहीं पर पर्वत , तो कहीं पर राष्ट्रीय उद्यान उपस्थित हैं जो छत्तीसगढ़ में होने वाले महत्वपूर्ण एग्जाम cgpsc , cgvyapam आदि । महामाया माता मंदिर अंबिकापुर का प्रसिद्ध मंदिरो में से एक …

महामाया माता मंदिर अंबिकापुर || Mahamaya Mata Mandir Ambikapur Read More »

पंचधारा जलप्रपात सरगुजा (अंबिकापुर ) ||PanchDhara waterfall Saraguja ( Ambikapur)

छत्तीसगढ़ प्राकृतिक द्वश्यो से एक संपन्न राज्य है जिसका अपनी प्राकृतिक छटा अपने आप में अनोखा है | कहीं पर नदी , कहीं पर पर्वत , तो कहीं पर राष्ट्रीय उद्यान उपस्थित हैं जो छत्तीसगढ़ में होने वाले महत्वपूर्ण एग्जाम cgpsc , cgvyapam आदि । पंचधारा जलप्रपात जो सरगुजा जिले के प्रसिद्ध पिकनिक में से …

पंचधारा जलप्रपात सरगुजा (अंबिकापुर ) ||PanchDhara waterfall Saraguja ( Ambikapur) Read More »

माता रानी माई का मंदिर बालोद ( मुल्लेगुडा) || Maa Rani Maai Mandir Balod||

माता रानी माई का मंदिर बालोद जिला का प्रसिद्ध मंदिर है यह मंदिर बहुत ही पुराना है और यहां की मान्यताएं भी बहुत ही अद्भुत है माता रानी माई को 12 गाँव की देवी है यहाँ सच्चे मन से जो भी मांगो पूरी होती है माता के दरबार में आने वाली सभी की मनोकामना पूरी …

माता रानी माई का मंदिर बालोद ( मुल्लेगुडा) || Maa Rani Maai Mandir Balod|| Read More »

महामाया माता का मंदिर बिलासपुर (रतनपुर ) || Mahamaya mata mandir bilaspur (ratanpur ) ||

महामाया माता का मंदिर छत्तीसगढ़ का प्रसिद्ध और प्राचीन मंदिर है आदिशक्ति मां महामाया देवी की पवित्र धार्मिक नगरी रतनपुर का इतिहास प्राचीन एवं गौरवशाली है मां महामाया देवी मंदिर का निर्माण रत्न देव प्रथम द्वारा 11वीं शताब्दी में कराया गया था | जो सन् 1045 में रत्नदेव राजा रात्रि में मानिकपुर नामक गांव में …

महामाया माता का मंदिर बिलासपुर (रतनपुर ) || Mahamaya mata mandir bilaspur (ratanpur ) || Read More »

माता लिंगेश्वरी मंदिर कोंडागांव ||mata lingeshwari konndagav||

माता लिंगेश्वरी का मंदिर छत्तीसगढ का प्रसिद्द मंदिर है जो छत्तीसगढ़ के कोंडागाव जिले में विराजित है| यह मंदिर जमीन से100 से 500 फीट की ऊचाई पर माता लिंगेश्वरी विराजित है लिंगेश्वरी माता का मंदिर पहाड़ों के बीचमें स्थित है|माता का मूर्ति 2-3फीट ऊचा है जो बहुत खूबसूरत है यहाँ पर विराजित माता का मूर्ति …

माता लिंगेश्वरी मंदिर कोंडागांव ||mata lingeshwari konndagav|| Read More »

मरही माता का मंदिर बिलासपुर (भनवारटंक)|| Marhi Mata Mandir Bilaspur ( Bhanavartank )

मरही माता का मंदिर घनघोर जंगल के बीच में स्थित है मरही माता का मंदिर की स्थापना ब्रिटिश शासन में किया गया था सन 17 जुलाई 1981 मे मंदिर का निर्माण किया गया है माता का मुर्ति नीम पेड के नीम स्थित है मरही माता के दर्शन के लिए प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में भक्त …

मरही माता का मंदिर बिलासपुर (भनवारटंक)|| Marhi Mata Mandir Bilaspur ( Bhanavartank ) Read More »

माँ चांगदेवी धाम मंदिर जनकपुर|| भगवानपुर || भरतपुर ||कोरिया|| छत्तीसगढ || (explorechhattisgarh)

माँ चांगदेवी धाम माँ चांगदेवी धाम का मंदिर जनकपुर का प्रसिद्द मंदिर है माँ चांगदेवी को चांग भखार के नाम से भी जाना जाता है और मंदिर का निर्माण 1980 में किया गया है तथा यहाँ सैकड़ो की संख्या में भक्त आते हैयहाँ पर भक्त पूजा आर्चना करके अपनी मनोकामना मानते है और मनोकामना पूरा …

माँ चांगदेवी धाम मंदिर जनकपुर|| भगवानपुर || भरतपुर ||कोरिया|| छत्तीसगढ || (explorechhattisgarh) Read More »

माँ दंतेश्वरी का मंदिर जगदलपुर || 600 वर्ष पुराना मंदिर ||

माँ दंतेश्वरी का मंदिर जगदलपुर जिले का प्रसिद्द मंदिर है और माँ दंतेश्वरी 52 शक्तिपीठो में से एक माता है यह मंदिर 600 वर्ष पुराना मंदिर है इस मंदिर का निर्माण 14वी शताब्दी में काकतीय( चालुक्य) वंश के राजा भैरमदेव के द्वारा कराया गया था | और तदन्तर शासन के द्वारा इसका समय समय पर …

माँ दंतेश्वरी का मंदिर जगदलपुर || 600 वर्ष पुराना मंदिर || Read More »

बुढी माई मंदिर रायगढ़ छत्तीसगढ़ के मंदिर और धार्मिक स्थान| Explore Chhattisgarh||

छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिला में विराजित बुढी माई मंदिर बहुत ही प्रसिध्द मंदिर है | बुढी माई मंदिर को रायगढ़ की माता के नाम से भी जाता है | छत्तीसगढ़ मंदिर और धार्मिक स्थानों से भरा है। छत्तीसगढ़ में रायगढ़ जिला सांस्कृतिक जिले के रूप में जाना जाता है। रायगढ़ (छत्तीसगढ़) रेशम और मंदिर के …

बुढी माई मंदिर रायगढ़ छत्तीसगढ़ के मंदिर और धार्मिक स्थान| Explore Chhattisgarh|| Read More »

माँ चंद्रहासिनी देवी का मंदिर रायगढ़ का लोकप्रिय मंदिर

चंद्रहासिनी देवी छत्तीसगढ़ का लोकप्रिय मंदिर माँ चंद्रहासिनी देवी का मंदिर छत्तीसगढ़ का लोकप्रिय मंदिर माना जाता है | क्योकि छत्तीसगढ़ के सभी शक्तिपीठ माताओं के मंदिर मे एक चंद्रहासिनी देवी का भी मंदिर है और मां चंद्रहासिनी देवी का मंदिर 1 हजार वर्ष से अधिक पुराना | माँ चंद्रहासिनी देवी मंदिर के दर्शन के लिए …

माँ चंद्रहासिनी देवी का मंदिर रायगढ़ का लोकप्रिय मंदिर Read More »

History of Lord Ganesha 1000 वर्ष से अधिक पुराना भगवान गणेश का मूर्ति

छत्तीसगढ़ में 1000 वर्ष से अधिक पुराना भगवान गणेश का मूर्ति छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले के पास मिदकुल्नर गाँव में स्थित ढोलकल पहाड़ी में विराजित है छत्तीसगढ़ का गणेश भगवान का मूर्ति |यह मूर्ति समुद्रतल से 2994 फीट की ऊँचाई पर एक पहाड़ी में स्थापित है |इस पहाड़ में गणेश भगवान की 3 फीट का …

History of Lord Ganesha 1000 वर्ष से अधिक पुराना भगवान गणेश का मूर्ति Read More »

गुंडरदेही ब्लॉक मे है 25 से अधिक देवी – देवताओ का मंदिर

छत्तीसगढ़ में 27 जिले है और हर जिले की अलग अलग खासियत है छत्तीसगढ़ के कई जिले पर्यटन मामले में , अपनी प्रकृतिक सुंदरता , देवी-देवताओ से और ऐतिहासिक चमत्कार के कारण अपने जिला में प्रसिद्द है छत्तीसगढ़ के कुछ जिलो में तो देश – विदेश के लोग यहाँ के प्रकृतिक सुन्दरता को देखने आते …

गुंडरदेही ब्लॉक मे है 25 से अधिक देवी – देवताओ का मंदिर Read More »

जोगिमाथ मंदिर || जोगी नाथ मंदिर||कलंगपुर गुंडरदेही

जोगी मठ – बाबा जोगीनाथ का समाधी स्थल है| जहा पर बाबा जोगीनाथ का भव्य मंदिर बनवाया गया है| महा शिवरात्रि के दिन भव्य मेला का आयोजन किया जाता है | एस मेले में लाखो सरधालुओ अपनी मनोकामना की पूर्ति एवं दर्शन के लिय यहा उपस्थित होते है| बाबा जोगीनाथ का मंदिर विकाशखंड गुन्डरदेही से …

जोगिमाथ मंदिर || जोगी नाथ मंदिर||कलंगपुर गुंडरदेही Read More »