माँ खुड़िया रानी जशपुर

माँ खुड़िया रानी का मंदिर जशपुर जिले का प्रसिद्ध मंदिरो में से एक है

खुड़िया रानी मंदिर यह जशपुर जिले के बगीचा ब्लॉक के छिछली पंचायत में स्थित है यह मंदिर हजारों साल पुरानी है यहां के पत्थर बताती है इस मंदिर का इतिहास, यहां के जो पत्थर हैं वह पानी के बहाव से कट-कट कर बनी हुई है यहां पर आने के बाद आपको लगेगा आप किसी दूसरी दुनिया में आ गए हैं प्रकृति की गोद में, नदियों की कल-कल आवाज आपके मन को आनंदित कर देगी, और यहां चारों ओर पहाड़ियों से गिरा हुआ है बिल्कुल प्रकृति की गोद मे पहाड़ियों के बीच स्थित है माँ खुड़िया रानी का मंदिर |

मान्यता :-

  • यहां मंदिर में आने के बाद आपको लगभग 400 सीढ़ी नीचे उतरना पड़ेगा, यह मंदिर दो पहाड़ों के बीचो-बीच है इन दो पहाड़ियों के बीचो-बीच एक नदी भी बहती है और यही नदी मे आगे चलकर एक जलप्रपात बनाती है और यहां पर विराजित है मां खुड़िया रानी, यहां अंदर में जो गुफा है जिसमे लगभग 100 फीट अंदर जाने पड़ते है माता रानी के दर्शन के लिए पुजारी या यहाँ माता रानी पहाड़ों के बीच समाहित हो गई है, पहले यहां पर माता दर्शन दिया करती थी, इसके पीछे एक कहानी है ऐसा यहां के पुजारी बोलते हैं कि पहले माता यहां पर दर्शन दिया करती थी, एक दिन की बात है कि  पुजारी माता को भोग लगाने के लिए अंदर गए हुए थे और भोग लगाने के बाद पुजारी बाहर आ गया, तब पुजारी को याद आया, वह लोटा अंदर भूल गए हैं उसे लेने के लिए जब पुजारी अंदर गुफा के अंदर गए तब माता प्रसाद का भोग कर रही थी, माता ने जब पुजारी को देख, तब माता नाराज हो गए और पहाड़ों के बीच छुप गई, तब से माता रानी गुफा के बीच समहित हो गई, आप यहां पर आकर माता रानी के दर्शन कर सकते हैं यहां पर बाहर में भी पूजा होती है यहां पर एक और चेंबर है जो गुफा का दूसरा साइड है ऐसा बोलते है इस मंदिर के दोनों गुफा मे घूमने जा सकते हैं इस गुफा के अंदर पानी हमेशा एक धार में बहती रहती है | 

बताया जाता है कि इस नदी में एक बड़ी सी मछली है जो सोने की नधुनी पहनी हुई है यह मछली माता का रूप है और मछली बहुत कम लोगो को दिखता है कहा जाता है

 दूरी:

 खुड़िया रानी मंदिर के लिए आपको छत्तीसगढ़ के जशपुर जिला जाना पड़ेगा,

जशपुर आने के लिए आप रायपुर व  बिलासपुर से अंबिकापुर आना पड़ेगा,

आप बस या ट्रेन से आ सकते हैं फिर अंबिकापुर से आपको बगीचा आना

पड़ेगा, अंबिकापुर से बगीचा की दूरी 60 किलोमीटर है व बगीचा से खुड़िया

रानी मंदिर की दूरी 18 किलोमीटर है यह अंबिकापुर से खुड़िया रानी मंदिर

लगभग 80 किलोमीटर की दूरी पर है सड़क अच्छी नहीं है यहाँ आप कार या

अपने बाइक से आ सकते है आपको गुड़िया रानी मंदिर के लिए छिछली

पंचायत में जाना होगा है| यहाँ पर आने क बाद आप मंदिर तक आसानी से जा सकते है |  

16 comments

  1. छत्तीसगढ़ में सहकारिता के विभिन्न पदों में निकली बंफर भर्ती , जाने पूरी जानकारी » Free Jobs Kind says:

    […] Candidate Must read the Official notification carefully form the Official website . […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *